Thursday, April 8, 2021
34 C
Delhi

हरियाणा सरकार ने राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों का नेतृत्व प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले ऊर्जावान, सकारात्मक सोच व नवाचारी कार्य करने वाले उन प्रधानाचार्यों को सौंपने का निर्णय लिया है

Must read

बांग्लादेश के राष्ट्रीय दिवस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन

नोमोश्कार !बांग्लादेश के राष्ट्रपतिअब्दुल हामिद जी,प्रधानमन्त्रीशेख हसीना जी, आप सभी का ये स्नेह मेरे जीवन के अनमोल पलों में से एक...

स्वतंत्रता के इतिहास में शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के योगदान को शब्दों में वर्णित करना असंभव – मोहित मदनलाल ग्रोवर

गुरुग्राम : "स्वतंत्रता के इतिहास में शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की वीरता व योगदान को शब्दों में वर्णित करना असंभव...

सिक्किम को फिल्मों के लिए सबसे ज्यादा अनुकूल राज्य का पुरस्कार

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों के निर्णायक मंडल (ज्युरी) ने सोमवार को वर्ष 2019 के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा की। पुरस्कारों की घोषणा से पहले...

देश में प्रतिदिन 34 किलोमीटर हो रहा है राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (एमओआरटीएच) ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 (22 मार्च, 2021 तक) 12,205.25 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण करके एक और मील का पत्थर हासिल किया है।इस अवधि...

चंडीगढ़, 27 दिसंबर-हरियाणा सरकार ने राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों का नेतृत्व प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले ऊर्जावान, सकारात्मक सोच व नवाचारी कार्य करने वाले उन प्रधानाचार्यों को सौंपने का निर्णय लिया है जिनको शिक्षा मनोविज्ञान व बाल मनोविज्ञान का उत्कृष्ट स्तर का ज्ञान हो। इसके लिए सरकार ने उन इच्छुक प्रधानाचार्यों से 4 जनवरी 2021 तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए हैं जिनकी कम से कम दो वर्षों से अधिक सेवा अवधि बकाया है। साक्षात्कार के बाद उनका चयन किया जाएगा।

एक सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में कार्यरत प्रधानाचार्यों का भी इस विशेष साक्षात्कार प्रक्रिया में भाग लेना अनिवार्य होगा। उन्होंने बताया कि ऐसे सभी प्रधानाचार्य जो वर्तमान में इन मॉडल संस्कृति विद्यालयों में प्रधानाचार्य पद पर कार्यरत हैं तथा भविष्य में अपनी सेवाएं इन विद्यालयों में नहीं देना चाहते, उन्हें इसी जिला का अन्य विद्यालय आवंटित कर दिया जाएगा। 

प्रवक्ता ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश में उत्कृष्ट श्रेणी की शिक्षा देने के उद्देश्य से खंड स्तर पर राजकीय मॉडल संस्कृति विद्यालयों की स्थापना की गई है। अंग्रेजी माध्यम के ये विद्यालय सीबीएसई बोर्ड से संबंद्घ होंगे।

Sourceprharyana
- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

बांग्लादेश के राष्ट्रीय दिवस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन

नोमोश्कार !बांग्लादेश के राष्ट्रपतिअब्दुल हामिद जी,प्रधानमन्त्रीशेख हसीना जी, आप सभी का ये स्नेह मेरे जीवन के अनमोल पलों में से एक...

स्वतंत्रता के इतिहास में शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के योगदान को शब्दों में वर्णित करना असंभव – मोहित मदनलाल ग्रोवर

गुरुग्राम : "स्वतंत्रता के इतिहास में शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की वीरता व योगदान को शब्दों में वर्णित करना असंभव...

सिक्किम को फिल्मों के लिए सबसे ज्यादा अनुकूल राज्य का पुरस्कार

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों के निर्णायक मंडल (ज्युरी) ने सोमवार को वर्ष 2019 के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा की। पुरस्कारों की घोषणा से पहले...

देश में प्रतिदिन 34 किलोमीटर हो रहा है राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (एमओआरटीएच) ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 (22 मार्च, 2021 तक) 12,205.25 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण करके एक और मील का पत्थर हासिल किया है।इस अवधि...

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विश्व जल दिवस पर कैच द रेन का शुभारंभ करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 22 मार्च 2021 को विश्व जल दिवस के मौके पर जलशक्ति अभियान: कैच द रेन का शुभारंभ करेंगेI प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग/वर्चुअल...