Thursday, January 28, 2021
19 C
Delhi

टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम (टॉप्स) के तहत विनेश फोगाट के लिए हंगरी और पौलेंड में 40 दिनों की विदेशी प्रशिक्षण शिविर को मंजूरी दी गई

Must read

अप्रैल से नवंबर, 2020 के दौरान प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आया 58.37 अरब डॉलर

आर्थिक विकास में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह बिना कर्ज लिए पूंजी जुटाने काएक महत्वपूर्ण स्रोतहै। सरकार का प्रयास रहा है...

केंद्रीय कृषि मंत्री ने वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम के सत्र को किया संबोधित

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास, पंचायती राज और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर बुधवार को वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम द्वारा आयोजित '...

12,351 करोड़ रुपये का अनुदान ग्रामीण निकायों को जारी

वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग ने 18 राज्यों के ग्रामीण निकायों को 12,351.5 करोड़ रुपये की राशि जारी की है। यह राशि वित्त वर्ष 2020-21 में जारी किए...

कैबिनेट ने सीजन 2021 के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 2021 सीजन के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को...

सरकार ने टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम (टॉप्स) के तहत महिला पहलवान विनेश फोगाट के लिए 40 दिनों की प्रशिक्षण शिविर को मंजूरी दी है। इस दौरान विनेश फोगाट के साथ उनकी निजी प्रशिक्षक वॉलर अकोस, कुश्ती प्रतिस्पर्धा में उनकी साथी प्रियंका फोगाट और फिजियोथेरेपिस्ट पूर्णिमा रमन नगोमदिर भी होंगी। इस शिविर का आयोजन हंगरी और पौलेंड में होना है। पहले हंगरी के बुडापेस्ट स्थित वसास स्पोर्ट्स क्लब में 28 दिसंबर, 2020 से 24 जनवरी, 2021 के बीच शिविर होगा। वहीं इसके बाद पौलेंड के स्जिक्रीक स्थित ओलंपिक ट्रेनिंग सेंटर में 24 जनवरी, 2021 से पांच फरवरी, 2021 तक प्रशिक्षण शिविर लगेगा। इन पर कुल अनुमानित खर्च 15.51 लाख रुपये होगा। इनमें हवाई किराया, स्थानीय परिवहन, बोर्डिंग एवं लॉजिंग चार्ज और जेब खर्च शामिल हैं। विनेश फोगाट टारगेट ओलंपिक पोडियन स्कीम का एक हिस्सा हैं।

इस प्रशिक्षण शिविर की योजना उनके निजी प्रशिक्षक वॉलर अकोस ने बनाई है। इस प्रशिक्षण की सहायता से विनेश को अपने भार वर्ग में कई यूरोपीय पहलवानों के साथ खेलने और अपनी तकनीक और फुर्ती से संबंधित पहलुओं में सुधार करने के अवसर मिलेंगे।

विनेश फोगाट को विदेशी प्रशिक्षण शिविर को लेकर काफी उम्मीद है। उन्होंने कहा, ‘एक पहलवान के रूप में मुझे अपने स्तर को जानने की जरूरत है और इससे मुझे अच्छी पहलवानों के साथ खेलने के अवसर मिलेंगे, जिनसे मुझे ये जानने में बहुत मदद मिलेगी कि मैं कहां खड़ी हूं।’

साल 2019 के विश्व चैंपियनशिप में महिलाओं की 53 किलोग्राम वर्ग की प्रतिस्पर्धा में कांस्य पदक जीतकर विनेश फोगाट ने टोक्यो ओलंपिक्स के लिए क्वालिफाई कर लिया है। टोक्यो ओलपिंक्स का आयोजन जुलाई-अगस्त, 2021 में होना है। फोगाट भारतीय खेल प्राधिकरण (साई), लखनऊ में अक्टूबर 2020 से आयोजित महिला पहलवानों के लिए राष्ट्रीय शिविर का एक हिस्सा थीं। कोरोना वायरस की वजह से लगने वाले लॉकडाउन से पहले उनकी अंतिम प्रतिस्पर्धा एशियन सीनियर चैंपियनशिप थी, जिसमें उन्होंने कांस्य पदक पर कब्जा किया था। इसका आयोजन फरवरी, 2020 में नई दिल्ली में किया गया था।

Sourcepibdelhi
- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

अप्रैल से नवंबर, 2020 के दौरान प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आया 58.37 अरब डॉलर

आर्थिक विकास में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह बिना कर्ज लिए पूंजी जुटाने काएक महत्वपूर्ण स्रोतहै। सरकार का प्रयास रहा है...

केंद्रीय कृषि मंत्री ने वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम के सत्र को किया संबोधित

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास, पंचायती राज और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर बुधवार को वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम द्वारा आयोजित '...

12,351 करोड़ रुपये का अनुदान ग्रामीण निकायों को जारी

वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग ने 18 राज्यों के ग्रामीण निकायों को 12,351.5 करोड़ रुपये की राशि जारी की है। यह राशि वित्त वर्ष 2020-21 में जारी किए...

कैबिनेट ने सीजन 2021 के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 2021 सीजन के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को...

कला हमें जीवन की सही परख सिखाती है – मोहित मदनलाल ग्रोवर

युवाओं को कला के क्षेत्र में प्रशिक्षित करने में जुटी गुरुग्राम टैलेंटहंट द्वारा गणतंत्र दिवस के अवसर पर रविवार को सैक्टर 7...