Thursday, January 28, 2021
15 C
Delhi

डेवेलपर ने कागजों में स्पेस बेच किया 250 करोड़ का घोटाला

-मकान खरीददारों ने प्रधानमंत्री को पत्र लिख की सीबीआई जांच की मांग। -रेरा गुरुग्राम की जांच में भी डेवेलपर का 250 करोड़ का घोटाला आया सामने।

Must read

अप्रैल से नवंबर, 2020 के दौरान प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आया 58.37 अरब डॉलर

आर्थिक विकास में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह बिना कर्ज लिए पूंजी जुटाने काएक महत्वपूर्ण स्रोतहै। सरकार का प्रयास रहा है...

केंद्रीय कृषि मंत्री ने वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम के सत्र को किया संबोधित

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास, पंचायती राज और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर बुधवार को वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम द्वारा आयोजित '...

12,351 करोड़ रुपये का अनुदान ग्रामीण निकायों को जारी

वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग ने 18 राज्यों के ग्रामीण निकायों को 12,351.5 करोड़ रुपये की राशि जारी की है। यह राशि वित्त वर्ष 2020-21 में जारी किए...

कैबिनेट ने सीजन 2021 के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 2021 सीजन के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को...

गुरुग्राम। यहां एक डेवेलपर ने कागजों में स्पेस बेचकर करीब 250 करोड़ रुपए का घोटाला किया है। डेवेलपर द्वारा हवा में ही 4 लाख 67 हजार स्क्वेयर फिट क्षेत्र बेच डाला। जब मकान खरीददारों ने इसकी शिकायत रेरा गुरुग्राम से की तो इसकी जांच की गई। रेरा की जांच में भी डेवेलपर का यह घोटाला साबित हो गया है। खरीददारों की ओर से प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर इस घोटाले की सीबीआई जांच की मांग की है।

सेक्टर-112 में एक्सपेरियन डेवेलपर्स प्रा. लि. की ओर से विंडचैंट्स प्रोजेक्ट नाम से गु्रप हाउसिंग कालोनी विकसित की गई है। डेवेलपर को इस प्रोजेक्ट के लिए सरकार की ओर से 12,78,153 स्क्वेयर फिट क्षेत्र में कालोनी विकसित करने के लिए डीटीसीपी की ओर से एफएआर में अनुमति दी गई थी। बिल्डर ने इस कालोनी में नियमों को ताक पर रखकर 16,53,422 स्क्वेयर फिट स्पेस बेच डाला। तय जमीन से 3,75,269 स्क्वेयर फिट अधिक स्पेस को कागजों में ही बेच दिया गया। यही नहीं, डेवेलपर ने नॉन चार्जेबल कॉमन एरिया को भी बेचकर करोड़ों के वारे-न्यारे कर लिए। मकान खरीददारों ने इसकी शिकायत रेरा गुरुग्राम में की। रेरा ने अपनी जांच में डेवेलपर के खिलाफ शिकायत को सही पाया। जांच में डेवेलपर का यह घोटाला उजागर हुआ है।

मकान खरीददार के अधिवक्ता एवं रेरा एक्सपर्ट एडवोकेट अभय जैन का कहना है कि डेवेलपर ने वर्ष 2012 में प्रोजेक्ट लांच करते समय 2275 स्क्वेयर फिट क्षेत्र अपार्टमेंट के लिए तय किया था। बिल्डर ने नियमों को ताक पर रखकर बिना किसी सत्यापन और घोटाला करके सुपर एरिया को 166 स्क्वेयर फिट बढ़ाकर 2441 स्क्वेयर फिट कर दिया। इसकी एवज में डेवेलपर ने घर खरीददारों से इस 166 स्क्वेयर फिट क्षेत्र का अतिरिक्त भुगतान करने को कहा। डेवेलपर के खिलाफ कुछ मकान खरीददारों ने आवाज उठाई। उन्होंने इसकी शिकायत राष्ट्रीय उपभोक्ता एवं निवारण आयोग नई दिल्ली को की। आयोग ने जब इसकी जांच कराई तो डेवेलपर पर लगाए गए आरोप सही पाए गए। यानी रेरा गुरुग्राम और आयोग दोनों की ही जांच में डेवेलपर का घोटाला उजागर हुआ।

डेवेलपर द्वारा किए गए इस घोटाले की सीबीआई जांच के लिए अब मकान खरीददार सुनील यादव व अन्य खरीददारों ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है। उन्होंने इस पत्र में यह भी लिखा है कि डेवेलपर के साथ टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग हरियाणा के वरिष्ठ अधिकारियों की भी मिलीभगत है। हरियाणा सरकार के पास डेवेलपर्स और वरिष्ठ अधिकारियों के घोटालों से जुड़ी अनेकों शिकायतें हैं, लेकिन इस शिकायतों पर कोई संज्ञान नहीं लिया जा रहा।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

अप्रैल से नवंबर, 2020 के दौरान प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आया 58.37 अरब डॉलर

आर्थिक विकास में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह बिना कर्ज लिए पूंजी जुटाने काएक महत्वपूर्ण स्रोतहै। सरकार का प्रयास रहा है...

केंद्रीय कृषि मंत्री ने वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम के सत्र को किया संबोधित

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास, पंचायती राज और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर बुधवार को वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम द्वारा आयोजित '...

12,351 करोड़ रुपये का अनुदान ग्रामीण निकायों को जारी

वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग ने 18 राज्यों के ग्रामीण निकायों को 12,351.5 करोड़ रुपये की राशि जारी की है। यह राशि वित्त वर्ष 2020-21 में जारी किए...

कैबिनेट ने सीजन 2021 के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 2021 सीजन के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को...

कला हमें जीवन की सही परख सिखाती है – मोहित मदनलाल ग्रोवर

युवाओं को कला के क्षेत्र में प्रशिक्षित करने में जुटी गुरुग्राम टैलेंटहंट द्वारा गणतंत्र दिवस के अवसर पर रविवार को सैक्टर 7...