Saturday, April 10, 2021
36 C
Delhi

वंदे भारत मिशन के तहत 67.5 मिलियन से अधिक लोगों को स्वदेश वापस लाया गया

Must read

बांग्लादेश के राष्ट्रीय दिवस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन

नोमोश्कार !बांग्लादेश के राष्ट्रपतिअब्दुल हामिद जी,प्रधानमन्त्रीशेख हसीना जी, आप सभी का ये स्नेह मेरे जीवन के अनमोल पलों में से एक...

स्वतंत्रता के इतिहास में शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के योगदान को शब्दों में वर्णित करना असंभव – मोहित मदनलाल ग्रोवर

गुरुग्राम : "स्वतंत्रता के इतिहास में शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की वीरता व योगदान को शब्दों में वर्णित करना असंभव...

सिक्किम को फिल्मों के लिए सबसे ज्यादा अनुकूल राज्य का पुरस्कार

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों के निर्णायक मंडल (ज्युरी) ने सोमवार को वर्ष 2019 के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा की। पुरस्कारों की घोषणा से पहले...

देश में प्रतिदिन 34 किलोमीटर हो रहा है राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (एमओआरटीएच) ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 (22 मार्च, 2021 तक) 12,205.25 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण करके एक और मील का पत्थर हासिल किया है।इस अवधि...

कोविड-19 महामारी के कारण दूसरे देशों में फंसे भारतीय नागरिकों को निकाल लाने के उद्देश्य से शुरू किए गए भारत के व्यापक निकासी कार्यक्रम के तहत विदेशों से 67.5 मिलियन से अधिक लोगों को स्वदेश वापस लाया गया है।

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने एक ट्वीट के माध्यम से बताया कि 67.5 मिलियन लोगों को स्वदेश वापस लाया गया है और यह संख्या लगातार बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि “वंदे भारत दुनिया भर में फंसे और परेशान नागरिकों को वापस लाने का एक मिशन मात्र नहीं है, बल्कि यह आशा और खुशी का मिशन रहा है। यह लोगों को यह बताने का मिशन रहा है कि बेहद कठिन समय में भी उन्हें अकेला नहीं छोड़ा जायेगा।” 

भारत ने विदेशों में फंसे हुए अपने नागरिकों को वापस लाने के लिए 7 मई, 2020 से दुनिया के सबसे बड़े निकासी अभियानों में से एक की शुरुआत की थी।

शुरू में, एयर इंडिया और इसकी सहायक कंपनी एयर इंडिया एक्सप्रेस ने उड़ानों के परिचालन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। बाद में, अन्य वायु सेवाओं को इस कार्यक्रम में भाग लेने की अनुमति दी गई।

हवाई रास्तों से निकासी के अलावा, भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए नौसेना के जहाजों का भी उपयोग किया गया।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

बांग्लादेश के राष्ट्रीय दिवस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन

नोमोश्कार !बांग्लादेश के राष्ट्रपतिअब्दुल हामिद जी,प्रधानमन्त्रीशेख हसीना जी, आप सभी का ये स्नेह मेरे जीवन के अनमोल पलों में से एक...

स्वतंत्रता के इतिहास में शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के योगदान को शब्दों में वर्णित करना असंभव – मोहित मदनलाल ग्रोवर

गुरुग्राम : "स्वतंत्रता के इतिहास में शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की वीरता व योगदान को शब्दों में वर्णित करना असंभव...

सिक्किम को फिल्मों के लिए सबसे ज्यादा अनुकूल राज्य का पुरस्कार

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों के निर्णायक मंडल (ज्युरी) ने सोमवार को वर्ष 2019 के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा की। पुरस्कारों की घोषणा से पहले...

देश में प्रतिदिन 34 किलोमीटर हो रहा है राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (एमओआरटीएच) ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 (22 मार्च, 2021 तक) 12,205.25 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण करके एक और मील का पत्थर हासिल किया है।इस अवधि...

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विश्व जल दिवस पर कैच द रेन का शुभारंभ करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 22 मार्च 2021 को विश्व जल दिवस के मौके पर जलशक्ति अभियान: कैच द रेन का शुभारंभ करेंगेI प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग/वर्चुअल...