Monday, March 1, 2021
26.1 C
Delhi

कैबिनेट ने सीजन 2021 के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य को मंजूरी दी

Must read

प्रधानमंत्री 2 मार्च को मैरीटाइम इंडिया समिट-2021 का शुभारंभ करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 2 मार्च को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 'मैरीटाइम इंडिया समिट 2021' का शुभारंभ करेंगे। मैरीटाइम...

इंडिया बुल्स सेंटरम पार्क सेक्टर 103 के आरडबल्यूए के चुनाव में मेजर जनरल की टीम विजयी

इंडिया बुल्स सेंटरम पार्क, सेक्टर 103 दौलताबाद गांव के समीप में हुए निवासी कल्याण संघ (आर डबल्यू ए) के हाल ही में...

हरियाणा समाज कल्याण बोर्ड की चेयरमैन मालिक रोजी आनंद ने परिवार परामर्श केंद्र को कोविड सतर्कता संबंधी निर्देश दिए

बीती शाम को हरियाणा समाज कल्याण बोर्ड की चेयरमैन मालिक रोजी आनंद ने गुरुग्राम के परिवार परामर्श केंद्र जो कि आदर्श रूरल...

सिद्ध पीठ माँ धारी देवी के डोला का 23 को गुरुग्राम में स्वागत

बहुत हर्ष के साथ आपको सूचित किया जा रहा है कि माँ धारी देवी का डोला, सिद्ध पीठ माँ धारी देवी...

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 2021 सीजन के लिए कोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को मंजूरी दे दी है।

पिसाई (मिलिंग) के लिए उपयुक्त उत्तम औसत गुणवत्ता (एफएक्यू) वाले कोपरे के एमएसपी में 375 रुपये की वृद्धि की गयी है, जो 2020 के 9960 रुपये प्रति क्विंटल से बढ़कर 2021 सीजन के लिए 10335 रुपये प्रति क्विंटल हो गयाहै। गोल कोपरे के एमएसपी में भी 300 रुपये की वृद्धि की गयी है, जो 2020 के 10300 रुपये प्रति क्विंटल से बढ़कर 2021 सीजन के लिए 10600 रुपये प्रति क्विंटल हो गयाहै। घोषित मूल्य, उत्पादन के अखिल भारतीय औसत लागत की तुलना में पिसाई वाले कोपरे के लिए 51.87 प्रतिशत और गोल कोपरे के लिए 55.76 प्रतिशत अधिक मूल्य प्राप्ति सुनिश्चित करते हैं।

यह मंजूरी, कृषि लागत और मूल्य (सीएसीपी) आयोग की सिफारिशों पर आधारित है।

2021 सीजन के लिएकोपरे के एमएसपी में वृद्धि, एमएसपी को उत्पादन के अखिल भारतीय औसत लागत के 1.5 गुणे पर निर्धारित करने के सिद्धांत के अनुरूप है, जिसकी सरकार ने 2018-19 के बजट में घोषणा की थी।

2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में न्यूनतम 50 प्रतिशत लाभ सुनिश्चित करना एक महत्वपूर्ण और प्रगतिशील कदमहै।

नारियल का उत्पादन करने वाले राज्यों में भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघलिमिटेड (नेफेड) और भारतीय राष्ट्रीय सहकारीउपभोक्ता संघ (एनसीसीएफ) एमएसपीक्रियान्वन के लिए केन्द्रीय नोडल एजेंसियों के रूप में कार्य करते रहेंगे।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

प्रधानमंत्री 2 मार्च को मैरीटाइम इंडिया समिट-2021 का शुभारंभ करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 2 मार्च को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 'मैरीटाइम इंडिया समिट 2021' का शुभारंभ करेंगे। मैरीटाइम...

इंडिया बुल्स सेंटरम पार्क सेक्टर 103 के आरडबल्यूए के चुनाव में मेजर जनरल की टीम विजयी

इंडिया बुल्स सेंटरम पार्क, सेक्टर 103 दौलताबाद गांव के समीप में हुए निवासी कल्याण संघ (आर डबल्यू ए) के हाल ही में...

हरियाणा समाज कल्याण बोर्ड की चेयरमैन मालिक रोजी आनंद ने परिवार परामर्श केंद्र को कोविड सतर्कता संबंधी निर्देश दिए

बीती शाम को हरियाणा समाज कल्याण बोर्ड की चेयरमैन मालिक रोजी आनंद ने गुरुग्राम के परिवार परामर्श केंद्र जो कि आदर्श रूरल...

सिद्ध पीठ माँ धारी देवी के डोला का 23 को गुरुग्राम में स्वागत

बहुत हर्ष के साथ आपको सूचित किया जा रहा है कि माँ धारी देवी का डोला, सिद्ध पीठ माँ धारी देवी...

राष्ट्रीय सडक सुरक्षा माह का हुआ समापन

राष्ट्रीय सडक सुरक्षा माह का समापन कार्यक्रम साइबर हब्ब एम्फीथिएटर में आयोजित किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य सडकों को सुरक्षित बनाना था।...