Monday, October 18, 2021
23.1 C
Delhi

कोरोना की पुनः दस्तक – न दो गज की दूरी मास्क बनी मजबूरी

Must read

गुरुग्राम में शुरू होगा हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय का ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेंटर

हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय (हकेवि), महेंद्रगढ़ का ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेंटर गुरुग्राम में शुरु होने जा रहा है। इस केंद्र के माध्यम से विश्वविद्यालय में...

भारत देश भारतीय स्वतंत्रता संग्राम क्रांतिकारियों के कारनामों से भरा हुआ है – बजरंग गर्ग

हिसार - हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी जिला हिसार द्वारा कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षता श्रीमती सोनिया गांधी व प्रदेश अध्यक्ष बहन कुमारी शैलजा जी...

छोटे किसान कर रहे हैं सामूहिक खेती : चेयरमैन नबार्ड

गुरुग्राम : छोटे छोटे किसान फिलहाल सामूहिक रूप से खेती कर रहे हैं यह देश में एक बड़ा सकारात्मक बदलाव है यह कहना था...

हमारा काम लोगो की मदद करना है: राहुल गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी भारतीय युवा कांग्रेस के प्रांगण में कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे। कार्यक्रम...

कोविड महामारी लगभग पूरा साल होने को है वर्तमान में कोविड वैक्सीन भी आ गई है फ्रंट लाइन कोरोना योद्धाओं को प्रथम चरण की वैक्सीन लगभग लग भी चुकी है।इन सबके बावजूद कोरोना एक बार फिर से अपने पांव पसार रहा केवल और केवल हमारी लापरवाही की वजह से।आज कल सार्वजनिक स्थानों पूजास्थल, अस्पताल, कोर्ट, सरकारी संस्थाओं या फिर रैली आंदोलनों में दो गज की दूरी मास्क है जरूरी केवल नाम मात्र के लिए जान पड़ते है परंतु ये भी सच है कि इसी महामारी के चलते कई लोगों को अपनी जान गवानी पढ़ी।आज हम आपके संज्ञान में लाने जा रहे हैं कनॉट प्लेस स्थित हनुमान मंदिर कि जहां कोरोना के नियमों की दिन दोपहरी में बड़ी ही आसानी से धज्जियां उड़ाई जा रहीं है और प्रशासन की ओर से कोई सुध लेने वाला दूर दूर तक दिखाई नहीं देता।मंदिर प्रबंधन भी इस ध्यान देता हुआ नही जान पड़ता कहीं भी दो गज की दूरी दूर दूर तक देखने को नजर नहीं आती तो कुछ लोगों के लिए मास्क जरूरी नहीं मजबूरी मात्र जान पड़ती है। जबकि संचार के हर माध्यम से सदैव चेतावनी दी जा रही है कि कोरोना अभी गया नहीं है केवल और केवल सावधानी से ही हम इस महामारी के पुनः आगमन को रोक सकते हैं परंतु परिस्थिति इसके बिल्कुल उलट है श्रद्धालु न तो दो गज की दूरी का पालन करते नजर आते हैं और न ही लंगर बाटने वाले इस सूरत में अगर कोरोना पुनः आगमन के लिए एक सरल निमंत्रण देते जान पड़ते हैं। एक ओर जहां देश में कोरोना वैक्सीन को निर्मित कर लगभग 2लाख लोगों वैक्सीन लगा कर में द्वितीय चरण में प्रवेश कर लिया है परंतु जनमानस की लापरवाही से कोरोना के नए केस भी सामने आ रहे हैं जो कि एक दस्तक है महामारी के पुनः आगमन की। इसका परिणाम आज कई राज्यों में एक बार फिर से कोरोना अपने नए पैर पसार रहा है। मंदिर स्थित सेनेटाइजर द्वार भी बंद पढ़ा है इस स्थिति में सरकार नहीं ईश्वर ही मालिक है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

गुरुग्राम में शुरू होगा हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय का ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेंटर

हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय (हकेवि), महेंद्रगढ़ का ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेंटर गुरुग्राम में शुरु होने जा रहा है। इस केंद्र के माध्यम से विश्वविद्यालय में...

भारत देश भारतीय स्वतंत्रता संग्राम क्रांतिकारियों के कारनामों से भरा हुआ है – बजरंग गर्ग

हिसार - हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी जिला हिसार द्वारा कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षता श्रीमती सोनिया गांधी व प्रदेश अध्यक्ष बहन कुमारी शैलजा जी...

छोटे किसान कर रहे हैं सामूहिक खेती : चेयरमैन नबार्ड

गुरुग्राम : छोटे छोटे किसान फिलहाल सामूहिक रूप से खेती कर रहे हैं यह देश में एक बड़ा सकारात्मक बदलाव है यह कहना था...

हमारा काम लोगो की मदद करना है: राहुल गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी भारतीय युवा कांग्रेस के प्रांगण में कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे। कार्यक्रम...

साइबर सिटी का बारिश से हाल बेहाल ओल्ड डीएलएफ नदी नाले में तब्दील

राजेंद्र कुमार रावत/गुरुग्राम: ओल्ड डीएलएफ की सड़क जो केंद्रीय विद्यालय और आकाश इंस्टीट्यूट के मध्य गुजरती है, थोड़ी सी बारिश ने प्रशासन की मानो पोल...